एक भारतीय शादी - वास्तविकता बनाम उम्मीदें

ज्यों ही किसी की शादी तय होती है, परिवार का हर सदस्य खुद को फरिश्ता रुपी वेडिंग प्लानर समझने लगता है।

Author: alice | Updated: May 11, 2016 6:14 IST
 
 

ज्यों ही किसी की शादी  तय होती है, परिवार का हर सदस्य खुद को फरिश्ता रुपी वेडिंग प्लानर समझने लगता है। हम समझते हैं की अपने परिवार की शादी में अपनी भावनाओं को बाँध कर रखना सहज काम नहीं और परिवारजनों की ख़ुशी के लिए हम अपने घर की हर शादी में चार चाँद लगाने की ही कामना रखते हैं,

पर क्यों न अब की बार रुक कर हम उन दो लोगों को मौका दें जिनकी ज़िन्दगी का सबसे महत्वपूर्ण दिन है यह।

इस विचारधारा को खासकर बहुत ही ध्यान से पढ़ें - दूर के रिश्तेदार !!!!

१. बुलावे की सूची बनाते समय - सवाल - किस किस को बुलाएं?

उम्मीद - सौ लोगों की सादी शादी 

वास्तविकता - मामाजी के बॉस की बेटी से लेकर पड़ोसन के बेटे के बेस्ट फ्रेंड तक, सबको, फिर भी शायद कोई रह जाए!!!!

 

२. शादी के कार्ड - सवाल - डिज़ाइन कैसा हो?

उम्मीद - एक समय अनु"कूल" कार्ड जो दूल्हे और दुल्हन की एक हंसती हुई फोटो भी समेट ले - क्योंकि मेहता जी अपने बेटे की शादी के लिए ऐसा कार्ड सोच भी नहीं सकते।

वास्तविकता - लाल और सुनहरी रंग का कार्ड जिसमें कम से कम एक गलती तो हो


३. विवाह स्थल का चुनाव - सवाल - कहाँ?

उम्मीद - शहर से कहीं बाहर एक शांतिपूर्ण वातावरण में या फिर एक डेस्टिनेशन शादी ।

वास्तविकता - गुप्ता अंकल का "सेलिब्रेशन" बैंक्वेट हॉल जहां पहली शादी बड़े पापा की और पिछली शादी बंटी भैया की हुई थी । 

 

४. शादी में आपका लुक - सवाल - कौन देगा?

उम्मीद - शहर के सबसे लोकप्रिय मेक-अप कलाकारों में से कोई ।

वास्तविकता - स्टेज की चकाचौंध लाइट्स, हाँफते हाँफते चलता AC और झरने की तरह बहता पसीना ।

 


५. शादी का खाना - सवाल - क्या होना चाहिए?

उम्मीद - ऐसे ऐसे व्यंजन जिनका नाम पता करते, बोलने की कोशिश करते पड़ोस की सारी आंटियों की चुगलियाँ मन में ही दबी रह जाएँ ।

वास्तविकता - भोला हलवाई का बटर चिकन, दाल मखनी, पनीर टिक्का और गुलाब जामुन । शादी में खाना खाता ही कौन है!!!!!!

 

६. शादी में नाच गाना - सवाल - क्या होगा?

उम्मीद - बॉलीवुड जैसे प्रदर्शन - हाथ, पैर और पूरी टोली एक लय में समन्वित।

वास्तविकता - कार-औ-बार, पंजाबी गाने और हुड़दंग ।

 


७. शादी के हर पल के लिए एक फोटो - सवाल - किस प्रकार के?

उम्मीद - सारे फोटो मिला कर बने एक छोटी सी खुशियों भरी हमारी शादी की कहानी ।

वास्तविकता - सेल्फ़ीज़, सेल्फ़ीज़ में मेहमान, सेल्फ़ीज़ की दूकान, सेल्फ़ीज़ सजे अरमान, ससेल्फ़ीज़ ही सेल्फ़ीज़ !!!!!!

 

८. हनीमून की तैयारी - सवाल - कहाँ?

उम्मीद - दूर कहीं फॉरेन में  समुद्र के किनारे एक छोटा सा कॉटेज, खुला आकाश, अंतहीन दरिया.......

वास्तविकता - गो, गोवा, गॉन !!!

 

इसीलिए, अबकी बार हमारे प्यारे जोड़ों की उम्मीदों पर ज़्यादा ध्यान दें । रिश्तेदारों का बैंड न बजाएं, bandbaajaa.com पे आएं! 

Related Tags : wedding planning, bride, wedding, expectations, reality
Posted on: May 11, 2016 wedding planning, bride, wedding, expectations, reality

Comments

    There are no comments under this post.

Leave A reply