अब 10% टैक्स अदा करें अगर आपकी शादी का बिल 5 लाख रुपये से ज्यादा आए

पीटीआई के मुताबिक, हम में से कई जल्द ही बड़ी शानदार शादियों को अलविदा कह सकते हैं क्योंकि लोकसभा में एक विधेयक लोगों को उनकी शादी के खर्चे कम करने के लिए प्रोत्साहित करना चाहता है। हाँ, अब जो भी अपनी शादी में 5 लाख रुपये से अधिक खर्च करता है उन्हें कुल राशि का 10% हिस्सा एक सरकारी कोष में भुगतान करना होगा जिससे गरीबों की शादियों का आयोजन करने में मदद मिलेगी।

Author: alice | Updated: March 1, 2017 7:34 IST
 

Find the Best Vendors Near You

 

पीटीआई के मुताबिक, हम में से कई जल्द ही बड़ी शानदार शादियों को अलविदा कह सकते हैं क्योंकि लोकसभा में एक विधेयक लोगों को उनकी शादी के खर्चे कम करने के लिए प्रोत्साहित करना चाहता है। हाँ, अब जो भी अपनी शादी में 5 लाख रुपये से अधिक खर्च करता है उन्हें कुल राशि का 10% हिस्सा एक सरकारी कोष में भुगतान करना होगा जिससे गरीबों की शादियों का आयोजन करने में मदद मिलेगी। 

छवि स्त्रोत

 

सांसद पप्पू यादव की पत्नी और कांग्रेस सांसद रंजीत रंजन द्वारा प्रस्तावित, यह बिल शादियों पर असाधारण और फालतू खर्चों को कम करता है और उत्सवों को सरल तरीके से लागू करवाता है।

रंजीत के साथ एक इंटरव्यू में, उन्होंने कहा, "इन दिनों, शादियां अपने धन को दिखाने के बारे में है और इसके कारण, गरीब परिवार अधिक पैसा खर्च करने के सामाजिक दबाव में हैं। इसकी जांच करने की जरूरत है क्योंकि यह बड़े पैमाने पर समाज के लिए अच्छा नहीं है।"

इस विधेयक का प्रयास है कि "अगर कोई भी परिवार शादी पर 5 लाख रुपये से अधिक खर्च करना चाहता है, तो इस तरह के परिवार को पहले ही उचित सरकार के सामने शादी में किए जाने वाले प्रस्तावित खर्च की घोषणा करनी होगी और इस राशि के 10% का योगदान एक कल्याण कोष में देना होगा जो कि गरीबों और गरीबी रेखा से नीचे परिवारों की बेटियों की शादी की सहायता के लिए एक समुचित सरकार द्वारा स्थापित किया जाएगा?"

आप इस बारे में क्या सोचते हैं? नीचे टिप्पणी करके हमें बताएं।

शादी से संबंधित और अपडेट के लिए, Bandbaajaa.com पर साइन अप करें।

…

Related Tags : lok sabha bill for weddings, wedding news,
This entry was posted in Lehengas On .
Posted on: March 01, 2017 lok sabha bill for weddings, wedding news,

Comments

    There are no comments under this post.

Leave A reply